मुमिनीन इस मुबारक मीक़ात पर यह अमल करके बरकात हासिल करें:

  • मुमिनीन सैयदना अब्दुल्लाह बदरुद्दीन रि.अ. की नीयत पर ख़त्मुल कुरान की तिलावत करें 
  • मुमिनीन सैयदना ताहेर सैफुद्दीन रि.अ. का कसीदा अलैका सलामुल्लाहे या बदरदीनेना की तिलावत करें.
  • शेह्ज़ादी डॉ. बज़अत ताहेरा बाईसाहेबा ने सैयदना अब्दुल्लाह बदरुद्दीन रि.अ. की शान में दावत की ज़बान में लिखे सलाम की तिलावत करे.