उर्स मुबारक के मौके पर मुमिनीन मुमेनात और उनके प्यारे फ़रज़न्द यह अमल करे:

  • सैयदना तैयब ज़ैनुद्दीन रि.अ. की नियत पर खतमुल कुरआन पढ़े
  • सैयदना ताहेर सैफुद्दीन रि.अ. ने सैयदना तैयब ज़ैनुद्दीन रि.अ. की शान में कसीदा मुबारका तसनीफ फरमाया है इसकी तिलावत करे
  • याकूतत उल दावतिल हक्क शहज़ादी डॉ. बज़त ताहेरा बाइसाहेबा ने दावत की ज़बान में लिखे सलाम की तिलावत करें, जिस में सैयदना तैयब ज़ैनुद्दीन की शानात और आप की तारीख की ज़िक्र है