शाबान की १५ वी रात को सैयदना ताहेर फखरुद्दीन (त.उ.श.) मगरिब और ईशा की नमाज़ के लिए और वशेक की नमाज़ के लिए बेकर्स्फिल्ड अमरीका में जलवा नुमा हुए. सैयदना ने वसीले में मुमिनीन के लिए कई दुआए फ़रमाई और इस मुबारक रात के शरफ का ज़िक्र फ़रमाया.