हमारे हुदात किराम ने यह बेहतर रस्म की है कि हम आका हुसैन स.अ. की ज़िक्र पर नए साल की शुरुआत करते है। इमाम हुसैन स.अ. की ज़िक्र के तुफैल में आले मोहम्मद के इल्म की बरकत अशरा मुबारका के दस दिन में नसीब होती है। यह नेमत इमाम उज़ ज़मान स.अ. के दाई के साथ नसीब हो यह बहुत बड़ी नेमत है। इस नेमत से जान की रौशनी बढ़ती है। आखेरत में दरजात बलंद होते है।

१४४० हि के साल में सुल्तान अल वाएज़ीन अल दाई अल अजल अल फातेमी सैयदना ताहेर फखरुद्दीन त.उ.श. अशरा मुबारका में मुंबई में दारुस सकीना में वाअज़ अकद फ़रमाएंगे इन्शाअल्लाहो तआला।

सैयदना अल मिनआम ने करम फरमा कर अशरा मुबारका १४४० हि में आप की पहली तीन वाअज़ आलमे ईमान में ब्रोडकास्ट करने की रज़ा फरमाई है।

मुमिनीन के कारोबार और उनके फ़रज़न्दो की स्कूल के वक्त को मद्दे नज़र रखते हुए सैयदना फखरुद्दीन त.उ.श. ने इरशाद फरमाया है कि वाअज़ शाम के वक्त अक्द हो। मोहर्रमुल हराम की २ री तारीख से ९ वी तारीख (सितम्बर १२ से २० तक) वाअज़ की मजलीस शाम चार (४:००) बजे शुरू होगी और वाअज़ बाद, मगरिब और ईशा की नमाज़ के बाद नियाज़ होगी इन्शाअल्लाहो तआला। आशूरा के दिन (२० वी सितम्बर) के दिन वाअज़ के वक्त का ऐलान आगे किया जाएगा। सैयदना ताहेर फखरुद्दीन त.उ.श. की पहली तीन वाअज़ (२,३,४ मोहर्रम – सितम्बर १२,१३,१४) का आलमे ईमान में शाम ४:३० से ६:३० बजे तक यु-ट्यूब के ज़रिए लाइव रिले होगा इन्शाअल्लाहो तआला और वाअज़ को यु-ट्यूब पर बाद में भी देखा जा सकेगा।

सैयदना ताहेर फखरुद्दीन त.उ.श. ने करम फरमा कर बोस्टन शहर ( अमेरिका) में अशरा मुबारका की खिदमत के लिए शेह्ज़ादा डॉ. अज़ीज़ भाईसाहेब कुत्बुद्दीन को इरशाद फरमाया है। बोस्टन में अशराह के प्रोग्राम के लिए इस वेबसाईट पर क्लिक करे  https://bostonjamaat.org/

सैयदना ताहेर फखरुद्दीन त.उ.श. ने करम फरमा कर लंडन में अशरा मुबारका में खिदमत के लिए डॉ. मोइज़ भाईसाहेब मोहयिद्दीन को इरशाद फ़रमाया है। लंडन में अशरह के प्रोग्राम के लिए इस वेबसाईट पर क्लिक करे https://www.jamaat.london/

मुमिनीन अशरा मुबारका में आका मौला त.उ.श. के साथ बरकात हांसिल करे। मौलानल मन्नान ने इरशाद फरमाया है कि मुमिनीन कोशिष करे कि इन दिनों में मजलीस में हाज़िर हो कर बरकात का ज़खीरा करे। मुमिनीन जिन्हें मुंबई, बोस्टन या लंडन में हाज़िर होने का इमकान न हो व़े यु-ट्यूब पर सैयदना त.उ.श. की पहली तीन वाअज़ देख सकते है। पांचवी मोहर्रमुल हराम से आशुरा के दिन तक, सैयदना फखरुद्दीन की रज़ा से शेहज़ादा अब्देअली भाईसाहेब सैफुद्दीन की वाअज़ बोस्टन से यु-ट्यूब पर लाइव देख सकते है।

लाइव ब्रोडकास्ट के बाद तमाम अशरा मुबारका में रिप्ले के लिए यु-ट्यूब पर रेकोर्डिंग रखी जाएगी।

मुमिनीन जिन्हें अशरा मुबारका की वाअज़ सुनने मुंबई आने की ख्वाहिश हो, उन सभी के लिए दारुस सकीना के करीब रहाइश का इंतेज़ाम किया गया जाएगा। मुमिनीन [email protected] पर इ-मेल से खबर करें और ज़्यादा मालूमात हांसिल करे।